Category Archives: Poetry

Hobbies

Love is Life

Without heart, robots we are, Without mind, fools we are, Without soul, animals we are, Without love, perished we are. – Srinivas Rao Love is life, Life is not love. – AAryan Love opens the door to life. One need … Continue reading

Posted in Personal, Poetry | Leave a comment

जीवन जीने का डर

Published with the permission of the Author- माँ की गोद से उतरते वक्त ज़मीन के खिसक जाने का डर लगता है । पापा की उंगली को छोड़ते वक्त भीड़ मे भटक जाने का डर लगता है । दोस्तों से बिछड़ते … Continue reading

Posted in Poetry | Leave a comment

Hypocrisy Unlimited (असीमित पाखंड)

Produced with the permission form the author. ————————————————————- दिल को बहलाने के लिए कुछभी गुनगुनाने का ख़याल अच्छा है । ग़म को भुलाने के लिए पीने-पिलाने का ख़याल बहुत अच्छा है ।। भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ने के लिए भूख हड़ताल … Continue reading

Posted in Poetry, Politics | 2 Comments